Ola इलेक्ट्रिक को सिंगापुर की टेमसेक (Temasek) और जापान के सॉफ्टबैंक (SoftBank) जैसे जाने-माने इन्वेस्टर्स का समर्थन है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 1 week ago


TVS की मानें, तो उसका ये इलेक्ट्रिक स्कूटर महज 2.6 सेकंड में 40 किलोमीटर प्रतिघंटा की रफ्तार पकड़ सकता है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 1 month ago


कंपनी पर आरोप है कि कंपनी ने उधार नहीं चुकाया है और इसीलिए क्रेडिट रेटिंग एजेंसी CRISIL ने रेटिंग को कम कर दिया है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 1 month ago


हीरो मोटोकॉर्प के लिए आने वाले दिनों में होंडा परेशानी खड़ी कर सकती है. क्योंकि उसने 100cc सेगमेंट में एंट्री ले ली है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 3 months ago


BW टीम ने EV बिजनेस की वर्तमान स्थिति और चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए जरूरी इन्वेस्टमेंट के बारे में इंडस्ट्री के प्रमुख लोगों से बातचीत की है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 3 months ago


पेट्रोल की कीमतों के आसमान पर पहुंचने के चलते इलेक्ट्रिक टू व्हीलर्स की डिमांड में लगातार तेजी आ रही है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 4 months ago


कंपनी उनकी मदद से अपने ब्रैंड की पहचान को नई ऊंचाईयों पर ले जाने और बेहतर तरीके से कस्टमर्स का ध्यान खींचने की तैयारी कर रही है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 4 months ago


बैंगलोर स्थित इलेक्ट्रिक वाहन बनाने वाली कंपनी ओला, 7610 करोड़ रुपयों की इन्वेस्टमेंट से भारत में दुनिया का सबसे बड़ा इलेक्ट्रिक व्हीकल हब बनाना चाहती है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 7 months ago


इलेक्ट्रिक वाहनों का बाजार जोर पकड़ रहा है. खासकर 2-व्हीलर सेगमेंट में ज्यादा तेजी देखने को मिल रही है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 8 months ago


यह सिर्फ 4.3 सेकंड में ही 0 से 40 किमी. प्रति घंटा की रफ्तार पकड़ने में सक्षम है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 11 months ago


एक बार चार्ज होने पर स्कूटर 165 किमी तक चलेगा और इसकी टॉप स्पीड 80 किमी प्रति घंटा होगी.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 11 months ago


देश में 13 लाख से अधिक इलेक्ट्रिक व्हीकल चल रहे हैं. इनमें सबसे ज्यादा संख्या 2-व्हीलर और 3-व्हीलर इलेक्ट्रिक वाहनों की है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 11 months ago


CCPA की मुख्य आयुक्त निधि खरे ने मंगलवार को कहा कि प्राधिकरण इस मामले में जल्द सुनवाई शुरू करेगा.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 1 year ago


इलेक्ट्रिक स्कूटरों में आग लगने की घटना के बावजूद इनकी बिक्री के कमी की संभावना बहुत कम है. क्योंकि लोग तेल की चढ़ती कीमतों से छुटकारा चाहते हैं.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो 1 year ago