MS Dhoni समेत इन क्रिकेटर्स के साथ हुई धोखाधड़ी, पैसे के चक्कर में रिश्ता किया खराब!

धोनी की तरफ से पटना स्थित लॉ फर्म विधि एसोसिएट्स द्वारा यह मामला अदालत में पेश किया जाएगा.

Last Modified:
Saturday, 06 January, 2024
MS Dhoni Investment

कैप्टन कूल के तौर पर अपनी पहचान बनाने वाले भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) को लेकर हाल ही में एक काफी चौंकाने वाली खबर सामने आ रही है. कैप्टन कूल के साथ हाल ही में धोखाधड़ी का एक मामला सामने आया है और उससे भी ज्यादा अचंभे की बात ये है कि धोनी के करीबियों ने ही उनके साथ धोखाधड़ी के इस मामले को अंजाम दिया है. आरोपियों के खिलाफ धोनी की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया गया है. महेंद्र सिंह धोनी का कहना है कि क्रिकेट अकादमी स्थापित करने के नाम पर उनके साथ 15 करोड़ रुपयों की धोखाधड़ी की गई है. 

बचपन के दोस्त ने दिया धोखा
महेंद्र सिंह धोनी के वकील ने जानकारी देते हुए बताया है कि इस मामले का संबंध स्पोर्ट्स मैनेजमेंट कंपनी आरका स्पोर्ट्स के निदेशकों से है और आरोपियों के खिलाफ एक निचली अदालत में मामला दर्ज भी कर लिया गया है. धोनी की तरफ से पटना स्थित लॉ फर्म विधि एसोसिएट्स द्वारा यह मामला अदालत में पेश किया जाएगा और विधि एसोसिएट्स के वकील दयानंद सिंह ने बताया है कि रांची की एक अदालत में आरका स्पोर्ट्स के निदेशकों मिहिर दिवाकर और सौम्या विश्वास के खिलाफ IPC की धारा 406 और 420 के तहत मामला दर्ज करवा दिया गया है. धोनी और मिहिर दिवाकर ने साथ मिलकर बिहार के लिए घरेलु क्रिकेट भी खेला है और दोनों बचपन के दोस्त भी हैं.

अकेले नहीं हैं धोनी
आपको शायद जानकर हैरानी होगी कि महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) इकलौते क्रिकेटर नहीं हैं जिनके साथ धोखाधड़ी हुई है. आइये जानते हैं, ऐसे अन्य क्रिकेटर्स के बारे में जिनके साथ धोखाधड़ी हो चुकी है. धोनी वाले मामले के सामने आने से कुछ ही दिनों पहले माही (MS Dhoni) को अपना आइडल मानने वाले ऋषभ पंत (Rishabh Pant) के साथ धोखाधड़ी का मामला भी सामने आया था. ऋषभ के साथ धोखाधड़ी किसी अन्य व्यक्ति ने नहीं बल्कि एक क्रिकेटर ने ही की थी. फरीदाबाद का रहने वाला मृणाक सिंह अंडर-19 टीम से खेल चुका है और उसका दावा है कि वह IPL की एक टीम का भी हिस्सा था. पुलिस जांच में इस बात का खुलासा हुआ कि 2020-21 में ऋषभ पंत के साथ 1.63 करोड़ रुपयों की धोखाधड़ी हुई थी. 

जब मैनेजर ही निकला धोखेबाज
जहां एक तरफ महेंद्र सिंह धोनी के साथ उनके दोस्तों ने धोखाधड़ी की है, वहीं तेज बल्लेबाज उमेश यादव के साथ उनके दोस्त और मैनेजर ने धोखाधड़ी की थी. इसी साल जनवरी में उमेश यादव ने अपने दोस्त और मैनेजर शैलेष ठाकरे पर 44 लाख रुपयों की धोखाधड़ी का आरोप लगाया था. उमेश यादव ने शैलेष ठाकरे के माध्यम से नागपुर और माहाराष्ट्र में कुछ अन्य जगहों पर जमीन खरीदी थी. 2014 से 2015 के बीच उमेश यादव ने संपत्ति खरीदने के लिए शैलेष को 44 लाख रुपए ट्रांसफर किये थे लेकिन बाद में उमेश को पता चला कि शैलेष ठाकरे ने अपने नाम पर संपत्ति खरीद ली थी.
 

यह भी पढ़ें: तेलंगाना सरकार ने समझौते का किया उल्लंघन? हैदराबाद में नहीं होगी Formula E रेस!

 


क्रिकेट में फिर सामने आया फिक्सिंग का मामला, घेर में तीसरी शादी करने वाला ये क्रिकेटर 

अब इस मामले में आने वाले दिनों में जांच की जाएगी, अगर उसमें शोएब मलिक पर आरोप साबित होते हैं तो उनके खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी.

Last Modified:
Friday, 26 January, 2024
Shoaib Malik

क्रिकेट का गेम एक बार फिर फिक्सिंग के आरोपों से घिर गया है. हजारों करोड़ रुपये की इकोनॉमी वाले इस गेम में इस बार निशाने पर हाल ही सना से तीसरी शादी करने वाले पाकिस्‍तानी क्रिकेटर शोएब मलिक आ गए हैं. उन पर एक ही ओवर में तीन नो बॉल डालने का आरोप लगा है. ये पूरा मामला बांग्‍लादेश क्रिकेट प्रीमियर लीग का है. इस घटना के बाद उनका कांट्रैक्‍ट ही रद्द कर दिया गया है. 

आखिर क्‍या है ये पूरा मामला? 
शोएब मलिक बांग्‍लादेश प्रीमियर लीग में फॉर्च्युन बार‍िशल (Fortune Barishal) की टीम में खेल रहे थे. उन पर आरोप है कि उन्होंने 22 जनवरी को मीरपुर में खुलना टाइगर्स (Khulna Tigers) के ख‍िलाफ जो मैच खेला उसमें एक के बाद एक एक लगातार तीन नो बॉल फेंकी थीं. तीन नो बॉल फेंकने के बाद सोशल मीडिया पर पाकिस्‍तानी क्रिकेट प्रेमियों के निशाने पर आ गए. अब इस मामले में आने वाले दिनों में उनके खिलाफ जांच की जाएगी और अगर आरोप सिद्ध होते हैं तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. 

पावरप्‍ले के दौरान हुई थी ये बॉलिंग 
शोएब मल‍िक फॉर्च्युन बार‍िशल (Fortune Barishal) की ओर से खेल रहे थे. ये गेंदबाजी पावरप्‍ले के दौरान उस वक्‍त की जब उनकी टीम ने 4 विकेट गंवाकर 187 रन बनाए थे और वो बॉलिंग कर रहे थे. फॉर्च्युन बार‍िशल (Fortune Barishal) के कप्‍तान तमीम ने उन पर भरोसा जताया था कि वो अपनी गेंदबाजी से विकेट ले लेंगे लेकिन कौन जानता था कि वो एक ही ओवर में तीन नो बॉल डाल देंगे और इतने महंगे साबित होगे. लेकिन ये बात इतनी आसान भी नहीं रही. अब बात ये सामने आ रही है कि वो तीन बॉल फिक्सिंग का हिस्‍सा थी. 

इन तीन बॉल के कारण महंगा साबित हुआ ओवर 
शोएब की इन तीन नो बॉल के कारण उनका ओवर काफी महंगा साबित हुआ. शोएब मैच का चौथा ओवर कर रहे थे. इसमें उन्‍होंने तीन नो बॉल फेंकी. इसमें ओवर की आखिरी बॉल पर शोएब ने लगातार दो नो बॉल फेंकी, दूसरी नो बॉल पर चौका भी लगा. जबकि आखिरी फ्री हिट में छक्‍का भी लगा. इस तरह मलिक ने एक ओवर किया और उसमें 18 रन दे दिए. इससे पहले ओवर की पहली 5 बॉलों पर उन्‍होंने सिर्फ 6 ही रन दिए थे. 

ये भी पढ़ें: RBI ने LIC को दी अनुमति, कर सकते हैं इस बैंक का अधिग्रहण


 


Mary Kom ने भारी मन से बॉक्सिंग को कहा अलविदा, इस वजह से लिया फैसला 

मैरी कॉम इंटरनेशनल बॉक्सिंग एसोसिएशन (IBA) की वुमन बॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी रही हैं.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो by
Published - Thursday, 25 January, 2024
Last Modified:
Thursday, 25 January, 2024
file photo

छह बार की वर्ल्ड चैंपियन एमसी मैरी कॉम (मैंगटे चुंगनेइजैंग मैरी कॉम) ने बॉक्सिंग से संन्यास ले लिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, बुधवार रात एक इवेंट में उन्होंने मुक्केबाजी से संन्यास की घोषणा की. मैरी कॉम ने आखिरी मुकाबला कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 के ट्रायल के दौरान खेला था. संन्यास का ऐलान करते हुए उन्होंने कहा कि मैंने अपने जीवन में सब कुछ हासिल कर लिया है. मुझमें अब भी प्रतियोगिता में हिस्सा लेने की भूख बाकी है, लेकिन इंटरनेशनल बॉक्सिंग एसोसिएशन के नियम ऐसा करने की इजाजत नहीं देते. पुरुष और महिला बॉक्सरों को केवल 40 की उम्र तक मुक्केबाजी करने की अनुमति होती है, इसलिए मैं अब किसी बड़े टूर्नामेंट में हिस्सा नहीं ले सकती.

दिलों में बनाई जगह
41 साल की मैरी कॉम ने 2012 लंदन ओलिंपिक गेम्स में भारत को ब्रॉन्ज मेडल दिलाया था. उन्होंने 6 बार वर्ल्ड चैंपियन का खिताब भी अपने नाम किया है और ऐसा करने वालीं वह इकलौती महिला मुक्केबाज हैं. इसके साथ ही मैरी कॉम 5 बार एशियाई चैंपियनशिप जीतने वाली भी इकलौती खिलाड़ी हैं. मैरी कॉम के करियर की बात करें, तो उन्होंने बॉक्सिंग की शुरुआत 18 साल की उम्र में पेनसिल्वेनिया में की थी. अपनी क्लियर बॉक्सिंग टेक्नीक से उन्होंने यहां सभी को प्रभावित करते हुए 48 KG कैटेगरी के फाइनल में जगह बनाई थी. भले ही फाइनल में वह पिछड़ गईं, लेकिन लोगों के दिलों में जगह बनाने में कामयाब रहीं.

दो बार लिया था ब्रेक
मैरी कॉम इंटरनेशनल बॉक्सिंग एसोसिएशन (IBA) की वुमन बॉक्सिंग वर्ल्ड चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बनी थीं. इसके साथ ही उन्होंने 2005, 2006, 2008 और 2010 में वर्ल्ड चैंपियनशिप का खिताब भी जीता. जुड़वां बच्चों को जन्म देने के बाद वह एक लंबे ब्रेक पर चली गई थीं. 2012 के लंदन ओलिंपिक में मैरी कॉम ने 51KG कैटेगरी में ब्रॉन्ज मेडल जीता. इसके बाद मैरी ने तीसरे बच्चे को जन्म दिया और फिर बॉक्सिंग से उनका नाता कुछ वक्त के लिए टूट गया. 2018 में उन्होंने दिल्ली में वर्ल्ड चैंपियनशिप में अपना छठा टाइटल जीता, इस मुकाबले में उन्होंने यूक्रेन की हन्ना ओखोटा पर 5-0 से जीत दर्ज की थी.

अब क्या है विकल्प?
एक्सपर्ट्स के मुताबिक, मैरी कॉम भले की इंटरनेशनल मुक्केबाजी एसोसिएशन (IBA) के नियमों के कारण एमेच्योर बॉक्सिंग नहीं कर सकतीं, लेकिन उनके पास प्रोफेशनल बॉक्सिंग का विकल्प है. इससे पहले, विजेंद्र सिंह भी प्रोफेशनल बॉक्सर बन चुके हैं. मैरी कॉम ने दिसंबर में 'खेलो इंडिया पैरा गेम्स' के दौरान कहा था कि मैं खेलना चाहती हूं लेकिन उम्र के कारण ऐसा नहीं कर सकती. फिर भी मुक्केबाजी से जुड़ा ही कुछ करने की कोशिश करूंगी. मैं पेशेवर बन सकती हूं, पर अभी कुछ साफ नहीं है.


ICC ने बदले क्रिकेट संबंधित ये जरूरी ये नियम, जानिये कितना बदल जाएगा खेल!

अगर कोई टीम स्टम्पिंग की प्रक्रिया के दौरान कैच पकड़े जाने के मामले की जांच चाहती है तो इसके लिए टीम को अलग से DRS लेना होगा.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो by
Published - Thursday, 04 January, 2024
Last Modified:
Thursday, 04 January, 2024
ICC

ICC यानी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट काउंसिल (International Cricket Council) की तरफ से इस वक्त एक काफी बड़ी खबर सामने आ रही है. हाल ही में ICC ने क्रिकेट संबंधित कुछ नियमों में जरूरी बदलाव कर दिए हैं और क्रिकेट के लिए जैसी दीवानगी भारत में देखने को मिलती है उसके अनुसार यह अति आवश्यक है कि इस खेल को चाहने वालों और दर्शकों को भी इन बदलावों के बारे में जानकारी हो. 

ICC ने बदले ये नियम
ICC द्वारा किये गए बदलावों के अनुसार अब स्टंपिंग के लिए DRS (Decision Review System) दौरान केवल साइड-ऑन रीप्ले ही चेक करेगा करेंगे और विकेट के पीछे कैच पकड़े जाने की परिदृश्य को अंपायरों द्वारा जांचा नहीं जाएगा. नियमों में हुए इन बदलावों को 12 दिसंबर 2023 से लागू किया जा चुका है और अगर कोई टीम स्टम्पिंग की प्रक्रिया के दौरान कैच पकड़े जाने के मामले की जांच चाहती है तो इसके लिए टीम को अलग से DRS लेना होगा और अपील करनी होगी. आपको बता दें कि नियमों में बदलाव से पहले अगर स्टम्पिंग की जांच की जाती थी तो पहले कैच पकड़े जाने की जांच होती थी और इसके बाद ही स्टंपिंग की जांच की जाती थी. लेकिन अब अगर आपको स्टंपिंग के साथ-साथ कैच पकड़े जाने की भी जांच करनी है तो आपको इसके लिए अलग से अपील करनी होगी. 

स्टंपिंग की अपील, स्टंपिंग की जांच
पिछले साल की शुरुआत में भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया (Ind vs Australia) सीरीज में ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर एलेक्स केरी (Alex Carey) ने DRS का इस्तेमाल विकेट के पीछे कैच पकड़े जाने के लिए अपील के रूप में किया था और उससे पहले उसी रिव्यु में स्टंपिंग की अपील को भी जांचा है. अब अगर कोई भी टीम स्टंपिंग के अपील करती है तो केवल विकेट का साइड व्यू ही देखा जाएगा और अंपायर केवल स्टंपिंग की अपील की जांच करेंगे और स्निकोमीटर, जिसे आमतौर पर अल्ट्राएज (UltraEdge) के नाम से जाना जाता है, का इस्तेमाल नहीं करेंगे. 

इन नियमों में भी हुए बदलाव
ICC ने बयान जारी कर कहा है कि नियमों में किये गए बदलावों के बाद अब स्टंपिंग के रिव्यु का इस्तेमाल सिर्फ स्टंपिंग के लिए किया जाएगा. इससे फील्डिंग कर रही टीम को बैट्समेन को आउट करने के लिए मुफ्त का रिव्यु नहीं मिलेगा और उन्हें अलग से एक रिव्यु भी लेना पड़ेगा. इसके साथ ही ICC ने कोनकशन से संबंधित नियमों में भी बदलाव किये हैं. अब कोनकशन के बदलाव में आने वाले खिलाड़ी को गेंदबाजी करने की अनुमति नहीं दी जायेगी. इसके साथ ही मैदान में चोट लगने पर खिलाड़ी की स्थिति को जांचने और उसका इलाज करने के लिए अब अधिकतम 4 मिनट का ही समय दिया जाएगा.
 

यह भी पढ़ें: नए साल में इस कंपनी से आई ले-ऑफ की खबर, इतने हजार कर्मचारी होंगे बाहर 

 


नाराज Bajrang Punia ने किया पद्मश्री लौटाने का ऐलान, PM मोदी के नाम लिखी चिट्ठी

साक्षी मलिक के कुश्ती से संन्यास के ऐलान के बाद अब बजरंग पूनिया ने अपना पद्मश्री अवॉर्ड लौटाने की घोषणा की है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो by
Published - Friday, 22 December, 2023
Last Modified:
Friday, 22 December, 2023
file photo

बृज भूषण शरण सिंह के करीबी सहयोगी संजय सिंह के रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया (WFI) का अध्यक्ष चुने जाने को लेकर शुरू हुआ विवाद गहराता जा रहा है. गुरुवार को साक्षी मलिक ने कुश्ती से संन्यास का ऐलान किया और अब बजरंग पूनिया (Bajrang Punia) ने अपना पद्मश्री अवॉर्ड लौटाने की घोषणा की है. बजरंग ने सोशल मीडिया पर बताया है कि वो अपना अवॉर्ड लौटा रहे हैं. 

बस यही मेरा स्टेटमेंट है
बजरंग पूनिया ने लिखा - मैं अपना पद्मश्री पुरस्कार प्रधानमंत्रीजी को वापस लौटा रहा हूं. कहने के लिए बस मेरा यह पत्र है, यही मेरा स्टेटमेंट है. संजय सिंह ने रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के चुनाव में जीत दर्ज करते हुए अध्यक्ष पद अपने नाम किया है. संजय पूर्व अध्यक्ष बृज भूषण शरण सिंह के करीबी सहयोगी रहे हैं. यही वजह है कि उनके अध्यक्ष पद संभालने से बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक और विनेश फोगाट सहित कई रेसलर नाराज हैं. ये पहलवान काफी समय से बृज भूषण के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. इनकी मांग थी कि रेसलिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के अध्यक्ष पद पर किसी महिला को होना चाहिए. बजरंग पूनिया को 2019 में पद्मश्री मिला था. वह ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीत चुके हैं. 

साक्षी ने कही थी ये बात

इससे पहले, गुरुवार को बृजभूषण सिंह के करीबी संजय सिंह भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष चुने गए थे. संजय सिंह के चुनाव के बाद साक्षी मलिक, बजरंग पुनिया और विनेश फोगाट ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इसी प्रेस कॉन्फ्रेंस में साक्षी ने रेसलिंग छोड़ने की घोषणा की. साक्षी ने कहा कि हमने दिल से लड़ाई लड़ी, लेकिन अगर बृज भूषण जैसे शख्स के बिजनेस पार्टनर और करीबी सहयोगी को डब्ल्यूएफआई का अध्यक्ष चुना गया है, तो मैं कुश्ती छोड़ने का फैसला लेती हूं.


खेल पुरस्‍कारों में मोहम्‍मद शमी ने मारी बाजी, बैडमिंटन जोड़ी को भी मिला ये अवॉर्ड

खेल पुरस्‍कारों में क्रिकेटर मोहम्‍मद शमी को अर्जुन अवॉर्ड दिया जाएगा जबकि बैडमिंटन की स्‍टार जोड़ी चिराग शेट्टी और सात्‍विक साईंराज रंकीरेड्डी को मेजर ध्‍यान चंद्र अवॉर्ड दिया जाएगा. 

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो by
Published - Wednesday, 20 December, 2023
Last Modified:
Wednesday, 20 December, 2023
Khel Award

खेल पुरस्‍कारों की हुई घोषणा, मोहम्‍मद शमी को अर्जुन पुरस्‍कार, बैडमिंटन जोड़ी को भी मिला अर्वाड 
भारत सरकार ने इस साल मिलने वाले खेल पुरस्‍कारों को एलान कर दिया है. सरकार की ओर से दिए जाने वाले खेल पुरस्‍कारों में क्रिकेटर मोहम्‍मद शमी को वर्ल्‍ड कप सहित क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन के लिए अर्जुन अवॉर्ड दिया जाएगा जबकि बैडमिंटन की स्‍टार जोड़ी चिराग शेट्टी और सात्‍विक साईंराज रंकीरेड्डी को मेजर ध्‍यान चंद्र अवॉर्ड दिया जाएगा. मोहम्‍मद शमी की प्रतिभा को मिले इस सम्मान से उनके प्रशंसकों में खुशी की लहर है.

26 एथलीट को मिलेगा पुरस्‍कार 
खेल मंत्रालय की ओर से दिए जाने वाले इन पुरस्‍कारों में 26 एथलीट को ये अवॉर्ड दिया जाएगा. इस साल इन पुरस्‍कारों के लिए जिनका नाम तय किया गया है उनकी सूची सरकार की ओर से जारी कर दी गई है. खेल मंत्रालय की ओर से इन पुरस्‍कारों को दिए जाने के लिए हर साल एक समिति बनाई जाती है. उस समिति ने सभी की परफॉरर्मेंस और दूसरे पहलुओं को देखते हुए 26 खिलाडि़यों का नाम तय किया है. 

इन्‍हें मिलेगा ये अवॉर्ड
खेल रत्न अवॉर्ड के लिए इस बार चिराग शेट्टी और सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी  का नाम तय किया गया है. ये  बैडमिंटन की जोड़ी है. इसी तरह से अर्जुन अवॉर्ड के लिए जिनका चयन किया गया है उनमें ओजस प्रवीण देवताले  को  तीरंदाजी के लिए, श्रीशंकर को एथलेटिक्स, पारुल चौधरी को  एथलेटिक्स, मोहम्मद हुसामुद्दीन को बॉक्सर, आर वैशाली को शतरंज, मोहम्मद शमी को क्रिकेट, अनुश अग्रवाल को घुड़सवारी, दिव्यकृति सिंह को घुड़सवारी ड्रेसेज, दीक्षा डागर को गोल्फ, कृष्ण बहादुर पाठक को हॉकी, सुशीला चानु को हॉकी, पवन कुमार को कबड्डी, रितु नेगी को कबड्डी, नसरीन को खो-खो, पिंकी को लॉन बॉल्स, ऐश्वर्या प्रताप सिंह तोमर को शूटिंग, ईशा सिंह को शूटिंग, हरिंदर पाल सिंह को स्क्वैश, अयहिका मुखर्जी को टेबल टेनिस, सुनील कुमार को रेसलिंग, रोशीबिना देवी को वुशु, शीतल देवी को पैरा आर्चरी, अजय कुमार को ब्लाइंड क्रिकेट और प्राची यादव को पैरा कैनोइंग के लिए अवॉर्ड दिया जाएगा. 


क्या आपको पता है IPL जैसी ही एक नई लीग ला रही है BCCI, इसमें होंगे सिर्फ 10 ओवर!

IPL के मुकाबले इस लीग में कुछ परिवर्तन होंगे और यह T-20 फॉर्मेट में नहीं होगी. यह लीग 10 ओवरों में यानी T-10 फॉर्मेट में खेली जायेगी.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो by
Published - Monday, 18 December, 2023
Last Modified:
Monday, 18 December, 2023
TATA IPL

भारत में क्रिकेट की दीवानगी छुपाए नहीं छुपती और यहां का बच्चा-बच्चा होश संभालने से पहले ही क्रिकेट का दीवाना हो जाता है. क्रिकेट की इसी दीवानगी को देखते हुए भारतीय क्रिकेट कण्ट्रोल बोर्ड (BCCI) के द्वारा वर्ष 2008 में क्रिकेट की सबसे बड़ी लीग, भारतीय प्रीमियर लीग (IPL) की शुरुआत की गई थी. यह T-20 यानी 20-20 ओवरों पर आधारित क्रिकेट फॉर्मेट था और 2008 में शुरू हुई इस लीग का जादू ऐसा चला कि हर साल लोग अब पूरी बेताबी से इस लीग का इंतजार करते हैं. 

कब आएगा नया टूर्नामेंट?
अब खबर आ रही है कि BCCI जल्द ही IPL जैसी एक और लीग लेकर आने के बारे में विचार कर रही है. हां, IPL के मुकाबले इस लीग में थोड़े बहुत परिवर्तन होंगे और यह T-20 फॉर्मेट पर आधारित नहीं होगी. यह लीग 10 ओवरों में यानी T-10 फॉर्मेट में खेली जायेगी. मीडिया रिपोर्ट्स में सामने आ रही जानकारी की मानें तो इस लीग की शुरुआत 2024 में की जा सकती है. जहां एक तरफ IPL का आयोजन अप्रैल से मई के बीच किया जाता है, वहीं माना जा रहा है कि यह टूर्नामेंट सितंबर और अक्टूबर के बीच आयोजित किया जा सकता है. 

IPL 2024 ट्रॉफी का हुआ अनावरण
आपको बता दें कि IPL 2024 के लिए नीलामी की शुरुआत कल यानी 19 दिसंबर 2023 से शुरू होनी है और इससे एक दिन पहले यानी आज IPL 2024 की खुबसूरत सी ट्रॉफी से पर्दा उठा दिया गया है. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि IPL 2024 के लिए नीलामी दुबई में स्थित कोका-कोला एरेना में की जायेगी और ऐसा पहली बार होगा जब IPL के लिए नीलामी का आयोजन विदेश में किया जायेगा. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म X पर जानकारी देते हुए IPL के आधिकारिक अकाउंट से पोस्ट किया गया है कि दुबई में आपका स्वागत है, हम IPL नीलामी के लिए पूरी तरह तैयार हैं और IPL की ट्रॉफी पूरे गर्व के साथ तैयार है. 

कैसी चल रही है IPL 2024 की नीलामी?
भारतीय प्रीमियर लीग 2024 की नीलामी कल से शुरू होने वाली है और इसी बीच नीलामी के लिए 333 खिलाड़ियों के नाम भी जारी कर दिए गए हैं. कुमार संगाकारा, एंडी फ्लावर, आशीष नेहरा, गौतम गंभीर और संजय बांगर जैसे प्रमुख नाम अपनी टीम का चयन करने के लिए इस मौके पर मौजूद रहेंगे. आपको बता दें कि 10 टीमों द्वारा केवल 77 स्लॉट्स ही भरे जाने हैं और इनके लिए ही नीलामी की जायेगी.
 

यह भी पढ़ें: IPO लाने के लिए SEBI ने NSE के सामने रखी ये शर्त, क्या है पूरा मामला?

 


T-20 में की बराबरी, ODI सीरीज जीतने की है भारत की बारी? यहां देख सकते हैं लाइव मैच!

India Vs South Africa ODI सीरीज का पहला मैच 17 दिसंबर को 1:30 बजे से जोहानसबर्ग के न्यू वांडरर स्टेडियम में खेला जाएगा.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो by
Published - Saturday, 16 December, 2023
Last Modified:
Saturday, 16 December, 2023
India Vs South Africa ODI

भारत में क्रिकेट की दीवानगी अलग ही स्तर पर है और फिलहाल भारतीय दल दक्षिणी अफ्रीका (India Vs South Africa ODI) के दौरे पर है. इस दौरे पर भारत और दक्षिणी अफ्रीका के बीच अभी तक T-20 मैचों की एक श्रृंखला खेली जा चुकी है और भारत ने इस श्रृंखला को 1-1 के स्कोर से बराबर कर लिया था. इस श्रृंखला में तीन मैच खेले जाने थे जिनमें से 1 मैच बारिश की वजह से रद्द हो गया था. अब लोगों को भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेली जाने वाली ODI श्रृंखला का बेसब्री से इंतजार है. 

India Vs South Africa ODI 
इस ODI श्रृंखला के दौरान भी भारत और दक्षिण अफ्रीका (India Vs South Africa ODI) के बीच 3 मैच खेले जायेंगे. T-20 श्रृंखला के दौरान जहां टीम की बागडोर सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) के हाथ में थी, वहीं ODI श्रृंखला के दौरान KL राहुल (KL Rahul) टीम की अगुवाई करते हुए नजर आयेंगे. विराट कोहली (Virat Kohli) और रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के फैन्स को निराशा का सामना करना पड़ सकता है क्योंकि दोनों ही दिग्गज इस श्रृंखला में खेलते हुए नजर नहीं आयेंगे. आपको बता दें कि भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच पहला ODI मैच 17 दिसंबर 2023 को खेला जाएगा, वहीं दूसरा ODI मैच 19 दिसंबर और आखिरी ODI मैच 21 दिसंबर 2023 को खेला जाएगा. 

कहां खेले जायेंगे मैच?
पहला ODI मैच (India Vs South Africa ODI) 17 दिसंबर को 1:30 बजे से जोहानसबर्ग के न्यू वांडरर स्टेडियम में खेला जाएगा. आपको बता दें कि यह पिच बैटिंग के लिए उपयुक्त मानी जाती है, हालांकि दक्षिण अफ्रीका में लगातार हो रही बारिश की वजह से ग्राउंड पर नमी देखने को भी मिल सकती है, जिसकी वजह से गेंदबाजों को भी मदद मिल सकती है. दूसरा ODI मैच 19 दिसंबर 2023 को 4:30 बजे से सेंट जॉर्ज पार्क में खेला जाएगा. इस पिच को तेज गेंदबाजों के लिए काफी अच्छा माना जाता है और यहां गेंद में उछाल देखने को मिल सकता है. एक बार सेट हो जाने के बाद बल्लेबाजों को भी इस पिच पर कोई खास दिक्कत तो नहीं होनी चाहिए. तीसरा ODI 21 दिसंबर को 4:30 बजे से बोलैंड पार्क में खेला जाएगा. 

कहां देखें मैच?
बोलैंड पार्क की पिच गेंदबाजों के साथ-साथ बल्लेबाजों के लिए भी अच्छी मानी जाती है और खेल के शुरुआती ओवर्स में तेज गेंदबाजों को थोड़ी मदद भी मिल सकती है लेकिन दूसरे हाफ के दौरान स्पिन गेंदबाजों को पिच से काफी मदद मिल सकती है. स्टार स्पोर्ट नेटवर्क (Star Sport Network) द्वारा भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका (India Vs South Africa ODI) ODI सीरीज का लाइव प्रसारण किया जाएगा और आप डिज्नी+ हॉटस्टार (Disney+ Hotstar) पर भी मैच देख सकते हैं. 
 

यह भी पढ़ें: कर रहे हैं IPO का इंतजार? लिस्ट में अगला है Innova Captab के IPO का नाम!

 


आखिरकार BCCI ने कहा जर्सी नंबर 7 को अलविदा, नौजवान नहीं ले पायेंगे ये नंबर!

क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की जर्सी नंबर 7 को आज BCCI द्वारा रिटायर कर दिया गया है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो by
Published - Friday, 15 December, 2023
Last Modified:
Friday, 15 December, 2023
Mahindra Singh Dhoni

BCCI यानी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की तरफ से इस वक्त एक काफी बड़ी खबर सामने आ रही है. कैप्टन कूल के नाम से दुनिया भर में पहचान बनाने वाली महेंद्र सिंह धोनी (Mahendra Singh Dhoni) ने तो साल 2020 में ही अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास लेने की घोषणा कर दी थी, लेकिन उनकी जर्सी यानी जर्सी नंबर 7 को BCCI ने आज अलविदा कहा है. 

BCCI ने दिया सम्मान
क्रिकेट के क्षेत्र में उनके जबरदस्त योगदान के लिए क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी की जर्सी नंबर 7 को आज BCCI द्वारा आज रिटायर कर दिया गया है और अगर कोई दूसरा क्रिकेटर है जिसको BCCI ने इस तरह से सम्मानित किया है तो वह क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर हैं. आपको बता दें कि सचिन तेंदुलकर की जर्सी का नंबर 10 था और BCCI द्वारा इस जर्सी को भी कमीशन से बाहर कर दिया गया है. महेंद्र सिंह धोनी को रिटायर हुए अब तीन साल से ज्यादा का समय हो चुका है. 

नए खिलाड़ी नहीं कर पायेंगे चयन
मीडिया रिपोर्ट में सामने आ रही जानकारी के अनुसार BCCI ने राष्ट्रीय टीम के खिलाड़ियों को सूचना देते हुए बताया है कि वह जर्सी नंबर 7 या फिर जर्सी नंबर 10 को नहीं चुन सकते. ये जानकारी विशेष रूप से अपने करियर की शुरुआत करने वाले खिलाड़ियों के लिए भी जारी की गई है. एक वरिष्ठ BCCI अधिकारी ने कहा है कि नौजवान खिलाड़ियों के साथ-साथ भारतीय क्रिकेट टीम का हिस्सा बन चुके खिलाड़ियों को भी कहा गया है कि वह जर्सी नंबर 7 या फिर जर्सी नंबर 10 का चयन न करें. इसके साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि कोई भी नया खिलाड़ी 7 नंबर या फिर 10 नंबर की जर्सी का चयन नहीं कर सकता. 

जर्सी के लिए पड़ी नंबरों की कमी?
इसके साथ ही एक BCCI अधिकारी ने यह भी बताया है कि अब नए खिलाड़ियों के पास अपनी जर्सी के नंबर को चुनने के लिए सिर्फ 30 नंबर ही हैं और उन्हें इन्हीं 30 नंबरों में से चयन करना होगा. वैसे तो ICC अपने खिलाड़ियों को 1 से लेकर 100 के बीच किसी भी संख्या को चुनने की खुली छूट देती है लेकिन भारत में 60 नंबर ऐसे हैं जिन्हें रेगुलर खिलाड़ियों को आवंटित किया जा चुका है. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अगर एक खिलाड़ी साल भर भी टीम से बाहर रहता है तो भी उसकी जर्सी को किसी और खिलाड़ी को आवंटित नहीं की जाती और इसी वजह अब खिलाड़ियों के पास अपनी जर्सी का नंबर चुनने के लिए सिर्फ 30 नंबर मौजूद हैं. 
 

यह भी पढ़ें: अपने इस कदम से मार्केट में Tata Nexon की हिस्सेदारी कम करेगी Kia!

 


IPL 2024 Auction: क्या आपके मनपसंद खिलाड़ियों को किया गया है रिटेन? यहां चेक करें लिस्ट!

इस लिस्ट में उन खिलाड़ियों के नाम शामिल होते हैं जिन्हें वह टीम रिटेन कर सकती है यानी बचाकर रख सकती है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो by
Published - Saturday, 25 November, 2023
Last Modified:
Saturday, 25 November, 2023
TATA IPL

भारत वर्ल्ड कप 2023 जरूर हार चूका है लेकिन भारत में क्रिकेट की दीवानगी कभी कम नहीं हो सकती और अब लोगों को बेसब्री से दुनिया की सबसे बड़ी क्रिकेट लीग, भारतीय प्रीमियर लीग (IPL) के अगले सीजन यानी IPL 2024 का बेसब्री से इंतजार है. IPL के इस सीजन की नीलामी के लिए 19 दिसंबर 2023 की तारीख तय की गई है. 

जारी हैं बदलाव
हर साल IPL टीमों द्वारा एक लिस्ट जारी की जाती है और इस लिस्ट में उन खिलाड़ियों के नाम शामिल होते हैं जिन्हें वह टीम रिटेन कर सकती है यानी बचाकर रख सकती है. IPL 2024 की नीलामी से पहले जारी की जाने वाली ये लिस्ट टीमों के द्वारा जारी कर दी गई है. अगर आप भी जानना चाहते हैं कि आपके फेवरेट खिलाड़ी को आपनी फेवरेट टीम ने रिटेन किया है या नहीं, तो ये खबर आपके बहुत काम की हो सकती है. बहुत सी टीमों ने IPL 2024 की शुरुआत से पहले अपनी लाइनअप को ठीक किया है. जहां कुछ टीमों ने हर साल रिटेन किये जाने वाले खिलाड़ियों को ही फिर से रिटेन किया है, वहीं कुछ टीमों ने अपने द्वारा रिटेन किये गए खिलाड़ियों को अपने लाइनअप से बाहर कर दिया है. 

कौन सी टीम ने किस खिलाड़ी को किया रिटेन?
अगर विभिन्न टीमों द्वारा रिटेन किये गए खिलाड़ियों की बात करें तो IPL 2023 की चैंपियन रही चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) द्वारा सिर्फ एक खिलाड़ी को रिटेन किया गया है और इस खिलाड़ी का नाम बेन स्टोक्स (Ben Stokes) है. जहां दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) द्वारा पृथ्वी शॉ (Prithvi Shaw) और मनीष पांडेय (Manish Pandey) को रिटेन किया गया है, वहीँ गुजरात टाइटन्स (Gujarat Titans) द्वारा यश दयाल, दुश्मन शानाका, ओडियन स्मिथ, प्रदीप सांगवान और उर्विल पटेल, कोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) द्वारा आंद्रे रसेल, एन जगदिसन, लोकी फर्ग्युसन, डी वीस, और मंदीप सिंह, लखनऊ सुपर जायंट्स (LSG) द्वारा मार्कस स्टॉयनिस, इविन लिविस, काइल जेमिसन, मनीष पाण्डेय, के गौतम और एडेन मार्क्रम जैसे खिलाड़ियों को रिटेन किया गया है. दूसरी तरह मुंबई इंडियन्स (Mumbai Indians) द्वारा जयदेव उनादकट, ईशान किशन, मुरुगन आश्विन, रीले मेरेडिथ, पीयूष चावला और संदीप वॉरियर, पंजाब किंग्स द्वारा हरप्रीत भाटिया, ऋषि धवन, बी राजपक्ष, मैथ्यू शॉर्ट और राज अंगद बावा, राजस्थान रॉयल्स द्वारा जेसन होल्डर, जो रूट, केसी करियप्पा और मुरुगन आश्विन, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर द्वारा हर्शल पटेल, दिनेश कार्तिक, फिन एलेन, अनुज रावत, और सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) द्वारा हैरी ब्रूक को रिटेन किया गया है. 

कितना होगा IPL 2024 का बजट?
IPL 2024 की नीलामी के लिए टीमों के बजट में इस बार बढ़ोत्तरी की गई है. पिछले साल जहां टीमों के 95 करोड़ रुपयों का बजट तय किया गया था वहीं इस बार इस बजट में 5 करोड़ रुपयों की वृद्धि की गई है जिसके बाद यह बजट 100 करोड़ रुपए पर पहुंच गया है. हर टीम को 100 करोड़ रुपयों का बजट दिया जाएगा ताकि वह अपने लाइनअप को तैयार कर सकें. फिलहाल सबसे कम कीमत लगभग 0.05 करोड़ रुपए, मुंबई इंडियन्स की है. दूसरी तरफ जहां सनराइजर्स हैदराबाद के पास 6.55 करोड़ रुपए का प्राइज मौजूद ह, वहीं दिल्ली कैपिटल्स और गुजरात टाइटन्स के पास 4.45 करोड़ रुपयों का बजट मौजूद है.
 

यह भी पढ़ें: MG Motor में होगी JSW की एंट्री, जानिए क्या होगा खास?

 


Gujarat Titans से बिगड़ी Hardik Pandya की बात, इस IPL दिखेंगे Mumbai Indians के साथ?

हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) को रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के विकल्प के रूप में देखा जा रहा है.

बिजनेस वर्ल्ड ब्यूरो by
Published - Saturday, 25 November, 2023
Last Modified:
Saturday, 25 November, 2023
Hardik Pandya

भारतीय टीम के जबरदस्त ऑल-राउंडर हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) को लेकर इस वक्त एक काफी बड़ी खबर सामने आ रही है. माना जा रहा है कि भारतीय प्रीमियर लीग के इस सीजन में हार्दिक पंड्या को अपनी पिछली टीम यानी मुंबई इंडियन्स (Mumbai Indians) के साथ खेलते हुए देखा जा सकता है. आपको बता दें कि हार्दिक पंड्या गुजरात टाइटन्स (Gujarat Titans) के कप्तान की भूमिका निभा रहे थे और IPL 2022 की ट्रॉफी को भी उन्होंने अपने नाम किया था. 

Rohit Sharma की जगह लेंगे Hardik Pandya?
मीडिया रिपोर्ट्स में BCCI (भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड) से जुड़े एक सूत्र के हवाले से यह कहा जा रहा है कि हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) को रोहित शर्मा (Rohit Sharma) के विकल्प के रूप में देखा जा रहा है और IPL 2023 के खत्म होने के बाद से ही हार्दिक, मुंबई इंडियन्स (Mumbai Indians) के साथ बातचीत कर रहे हैं. फिलहाल मुंबई इंडियन्स और गुजरात टाइटन्स के बीच इस डील को अंतिम रूप देने के बारे में निर्णय लिया जा रहा है. एक बार डील तय हो जाए उसके बाद निर्णायक फैसलों की घोषणा कर इनके बारे में जानकारी दे दी जायेगी. 

Mumbai Indians को तैयार रखने होंगे 15 करोड़
अगर हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) मुंबई इंडियन्स (Mumbai Indians) में वापसी करते हैं तो मुंबई इंडियन्स को हार्दिक पंड्या की 15 करोड़ रुपयों की भारी भरकम फीस का भुगतान करने के लिए खुदको तैयार करना होगा और इस फीस की पूर्ति के लिए मुंबई इंडियन्स अपने दल से कुछ खिलाड़ियों को निकाल भी सकती है. दूसरी तरफ खबर यह भी है कि गुजरात टाइटन्स ने हार्दिक पंड्या के विकल्प की तलाश भी शुरू कर दी है. BCCI से जुड़े एक सूत्र ने मीडिया के साथ बातचीत के दौरान बताया कि हार्दिक और मुंबई इंडियन्स वर्ल्ड कप से कई महीनों पहले ही कई बार निर्णायक फैसलों तक जा पहुंचे हैं. गुजरात टाइटन्स की मैनेजमेंट और हार्दिक के बीच लगातार दूरियां बढ़ रही हैं. 

यहां से बढ़ीं Hardik Pandya की संभावनाएं
IPL 2022 के दौरान हार्दिक पंड्या (Hardik Pandya) ने गुजरात टाइटन्स (Gujarat Titans) के कप्तान के रूप में टीम को जीत दिलाई थी. ये जीत ज्यादा महत्त्वपूर्ण इसलिए भी थी क्योंकि गुजरात टाइटन और लखनऊ सुपर जायन्ट्स (Lucknow Super Giants) के लिए IPL का यह पहला सीजन था. इस सीजन की जीत के बाद ही वाइट-बॉल क्रिकेट के क्षेत्र में भारतीय कप्तान के रूप में हार्दिक पंड्या की संभावनाएं बढ़ गईं थीं. अब देखना ये होगा कि क्या हार्दिक इस बार हमें मुंबई इंडियन्स की जर्सी पहने नजर आते हैं या फिर इस साल भी वह गुजरात की कप्तानी करते हुए नजर आयेंगे?
 

यह भी पढ़ें: क्रेडिट कार्ड से खर्च के आंकड़ों ने बनाया नया रिकॉर्ड,  इतने ट्रिलियन पहुंचा खर्च