Tata Motors जल्द लॉन्च करेगी एक और इलेक्ट्रिक कार, एक्स पर शेयर किया टीजर

Tata Motors ने अपने ऑफिशियल एक्स (`X) हैंडल से एक टीजर शेयर किया है. कंपनी ने बताया है कि ये कार जल्द भारतीय बाजार में लॉन्च होगी.

Last Modified:
Monday, 08 July, 2024
BWHindi

टाटा मोटर्स (Tata Motors) लगातर इलेक्ट्रिक व्हीकल्स पर काम कर रही है. कंपनी के पोर्टफोलियो में पहले से ही 4 इलेक्ट्रिक कार मौजूद हैं और अब ये एक और इलेक्ट्रिक कार लाने की तैयारी कर रही है. टाटा मोटर्स ने अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स (X) पर इस का को लेकर एक टीजर वीडियो भी शेयर किया है. इस वीडियो को पोस्ट करते हुए कंपनी ने बताया है कि ये कार जल्द इंडियन मार्केट में लॉन्च होगी. तो चलिए आपको बताते हैं कि इस कार का नाम क्या होगा और इसमें आपको क्या फीचर मिलेंगे?

जल्द लॉन्च होगी Tata Curvv EV
आपको बता दें, साल की शुरुआत में देश में हुए ऑटो एक्सपो में कंपनी ने इस कार का ICE वैरिएंट एस कार का खुलासा किया था. वहीं, अब कंपनी Tata Curvv EV कार को लॉन्च करने जा रही है. कंपनी ने अपने ऑफिशियल एक्स हैंडल पर इस कार का एक टीजर शेयर किया है, जिसमें बताया है कि कार जल्द लॉन्च होगी. ऑटो एक्सपो में कंपनी ने इस कार का डीजल इंजन वैरिएंट पेश किया था. इस एसयूवी कार में 1.5 लीटर का डीजल इंजन मिलेगा. ये इंजन 260 Nm का मैक्सिमम टॉर्क और 115 पीएस की मैक्सिमम पावर जनरेट करेगा, लेकिन अभी कंपनी इस कार के इलेक्ट्रिक वेरिएंट पर फोकस कर रही है.

सेफ्टी के लिए 360 डिग्री कैमरा
कंपनी ने ग्राहकों की सेफ्टी को ध्यान में रखते हुए इस कार में 360 डिग्री कैमरा मिल सकता है. ऑटो एक्सपो में शोकेस के दौरान इस कार के फ्रंट में आईआरवीएम (IRVM) के नीचे कैमरा दिखाई दिया, जिससे लगता है कि कार में 360 डिग्री कैमरा या एडीएएस (ADAS) फीचर मिल सकता है. 

मिलेगा स्पोर्ट्स कार वाला फील
इस कार का डिजाइन काफी शानदार और ये हल्का सा स्पोर्ट्स कार वाला फील देती है. कार का रियर साइड काफी शानदार है और ये डिजाइन 3.0 फिलॉसाफी पर आधारित है. वहीं, कार के फ्रंट में बड़ा ग्रिल, टाटा का लोगो और LED हेडलाइट्स लगी हैं, जो एक दूसरे से कनेक्टेड होंगी. साथ में फॉग लैम्प और प्रोजेक्टर हैडलाइट्स की जगह भी शामिल है.  इसके अलावा आपको 18 इंच के एलॉय व्हील्स मिलेंगे और 422 लीटर का बूट स्पेस मिलता है, जो फैमिली के लिए काफी सही है.

इन कारों से होगा मुकाबला
आपको बता दें, Tata Curvv EV की शुरूआती एक्स शोरूम कीमत 16 से 22 लाख रुपये हो सकती है. वहीं, भारतीय ऑटो बाजार में Tata Curvv का सीधा मुकाबला क्रेटा, किआ सेल्टॉस, स्कोड कुशाक, मारुति ग्रैंड विटारा, होंडा एलिवेट और MG Astor से हो सकता है. 

इसे भी पढ़ें-जगन्नाथ रथयात्रा के दौरान एक श्रद्धालु की मौत, CM ने 4 लाख रुपये के मुआवजे का किया ऐलान


न बिजली, न पेट्रोल, 1 लीटर पानी से 150 किलोमीटर दौड़ेगा ये स्कूटर, जानें क्या होगी इसकी कीमत?

Joy Hydrogen Scooter पानी से चलने वाला स्कूटर है, जोकि सड़क पर 25 किमी प्रति घंटे की स्पीड देता है. कंपनी ने फिलहाल इसका प्रोटोटाइप वर्जन बनाया है, जल्द ही इसे लॉन्च किया जाएगा.

Last Modified:
Monday, 22 July, 2024
BWHindia

आपने बिजली और पेट्रोल वाली स्कूटर तो खूब चलाया होंगा, लेकिन क्या कभी पानी से चलने वाला स्कूटर चलाया है? नहीं तो फिर हम आपको आज ऐसे ही स्कूल के बारे में बताने वाले हैं. दरअसल, भारतीय कंपनी जॉय ई-बाइक (Joy e-bike) ने हाईड्रोजन स्कूटर पेश किया है, जिसे जल्द ही लॉन्च किया जाएगा.  तो आइए आपको इस स्कूल की खासियत से लेकर कीमत तक पूरी जानकारी देते हैं.  

ये होगी स्कूटर की कीमत
फिलहाल जॉय हाईड्रोजन स्कूटर (Joy Hydrogen Scooter) का प्रोटोटाइप वर्जन आया है, जो बिक्री के लिए मौजूद नहीं है. लेकिन जल्द ही कंपनी इसे लॉन्च करेगी. जानकारी के अनुसार इसकी कीमत 70 हजार से शुरू हो सकती है. 

पर्यावरण के लिए फायदेमंद होगा ये स्कूटर
जॉय ई-बाइक की पैरेंट कंपनी वार्डविजार्ड हाइड्रोजन फ्यूल सेल और इलेक्ट्रोलाइजर टेक्नोलॉजी पर काम कर रही है. इसी टेक्नोलॉजी के तहत यह स्कूटर पानी से चलता है. हाइड्रोजन टेक्नोलॉजी भारत में साफ-सुथरी मोबिलिटी में अहम रोल निभा सकती है. इसके प्रदूषण से बचने में मदद मिलेगी और पर्यावरण को बचाना आसान होगा.

पानी से चलेगा स्कूटर
जॉय ई-बाइक ने इस साल भारत मोबिलिटी शो में भी अपना पानी से चलने वाले स्कूटर को पेश किया था. इसे चलाने के लिए डिस्टिल्ड वाटर का इस्तेमाल किया जाता है. स्कूटर की टेक्नोलॉजी पानी के मॉलिक्यूल्स को तोड़कर उसमें से हाइड्रोजन के मॉलिक्यूल्स को अलग करती है. जब हाइड्रोजन अलग हो जाता है, तो ये स्कूटर हाइड्रोजन को फ्यूल के तौर पर इस्तेमाल करता है और स्कूटर चलने लगता है.

ड्राइविंग लाइसेंस की भी जरूरत नहीं
पानी से चलने वाला स्कूटर टॉप स्पीड के लिहाज से उतना एडवांस नहीं है. इसकी टॉप स्पीड 25 किलोमीटर प्रति घंटा है. इसकी स्पीड कम है, इसलिए इसे चलाने के लिए आपको ड्राइविंग लाइसेंस की भी जरूरत नहीं है. आप बिना ड्राइविंग लाइसेंस इसे चला सकते हैं. 

150 किमी का माइलेज
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार ये इलेक्ट्रिक स्कूटर 1 लीटर पानी से 150 किलोमीटर की दूरी तय कर सकेगा. फिलहाल, ये एक प्रोटोटाइप है, यानी अभी ये स्कूटर बिक्री के लिए मौजूद नहीं है. इसकी टेक्नोलॉजी पर अभी काम चल रहा है. जब कंपनी इसके प्रोडक्शन मॉडल को डेवलप करने में सफल होगी, तब जाकर इसे आम लोगों के लिए लॉन्च किया जाएगा.

इसे भी पढ़ें-FD पर 8 प्रतिशत से ज्यादा ब्याज दे रहे ये 5 बैंक, 10 हजार के निवेश पर मिलेगा इतना रिटर्न


भारत में लॉन्च हुई Royal Enfield Guerrilla 450,  बुकिंग शुरू, जानें क्या है कीमत?

रॉयल एनफील्ड (Royal Enfield) ने नई गुरिल्ला 450 (Guerrilla 450) को भारतीय बाजार में लॉन्च कर दिया है. इसकी बुकिंग शुरू हो गई है और ग्राहकों को डिलीवरी अगस्त में की जाएगी.

Last Modified:
Wednesday, 17 July, 2024
BWHindia

रॉयल एनफील्ड (Royal Enfield) ने नई गुरिल्ला 450 (Guerrilla 450) को भारतीय बाजार में लॉन्च कर दिया है. ये हिमालयन (Himalayan) के बाद शेरपा (Sherpa) 450 प्लेटफॉर्म पर बना दूसरा मॉडल है. गुरिल्ला 450 एक रोडस्टर है, जिसमें एक स्ट्रिप्ड रेट्रो डिजाइन और कुछ दिलचस्प कलर ऑप्शन हैं. आपको बता दें, बुधवार यानी 17 जुलाई 2024 से इसकी बुकिंग भी शुरू हो चुकी है. तो जानते हैं इसमें आपको क्या खास फीचर्स मिलेंगे और इसकी कीमत क्या होगी? 

इतनी है बाइक की कीमत
रॉयल एनफील्ड (Royal Enfield) ने नई गुरिल्ला 450 की कीमत 2.39 लाख रुपये से शुरू होकर 2.54 लाख रुपये (एक्स-शोरूम) तक है. इसमें आपको फ्लैश, डैश और एनालॉग ये 3 वैरिएंट मिलेंगे, जिसमें फ्लैश वैरिएंट में ब्रावा ब्लू और येलो रिबन कलर ऑफ्शन मिलेगा. डैश वेरिएंट में गोल्ड डिप और प्लाया ब्लैक कलर और एनालॉग वैरिएंट स्मोक और प्लाया ब्लैक कलर में पेश किया जाएगा.

बाइक में मिलेंगे ये फीचर्स
रॉयल एनफील्ड गुरिल्ला 450 में हिमालयन 450 की तरह ही एक छोटा फुली डिजिटल इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर लगा है, जिसे गूगल मैप्स (Google Maps) से जोड़ा गया है. इस बाइक के लोअर वैरिएंट की बात करें, तो इसमें डिजिटल डिस्प्ले के साथ एक एनालॉग इंस्ट्रूमेंट क्लस्टर दिया गया है, जो रॉयल एनफील्ड की बाइक्स शॉटगन 650 (Shotgun 650) में भी दिया गया है. साथ ही USB टाइप C चार्जिंग पोर्ट के साथ LED लाइटिंग भी है.

दमदार इंजन 
गुरिल्ला 450 में 452cc सिंगल-सिलिंडर, लिक्विड-कूल्ड इंजन मिलेगा, जो 8000 rpm पर 39.47 bhp और 5,500 rpm पर 40 Nm का पीक टॉर्क आउटपुट देता है. इंजन को 6-स्पीड गियरबॉक्स में जोड़ा गया है, जिसमें स्लिप और असिस्ट क्लच मिलता है. इसमें एक राइड-बाय-वायर (ride-by-wire) सिस्टम भी है.

इसे भी पढ़ें-SBI ने लॉन्च की ‘अमृत वृष्टि’ डिपॉजिट स्कीम, निवेशकों को मिलेगा बेहतर रिटर्न

मोटरसाइकिल का वजन 185 किलो
बाइक के दोनों पहियों में एलॉय व्हील; फ्रंट में 120/70-17 यूनिट और रियर में 160/60-17 यूनिट मिलते हैं. ब्रेक के लिए ट्विन पिस्टन कैलिपर के साथ 310 mm डिस्क अप फ्रंट और रियर में 270 mm डिस्क है. मोटरसाइकिल का वजन 185 kg (कर्ब वेट) है और इसका ग्राउंड क्लीयरेंस 169 mm और सीट की ऊंचाई 780 mm है. 

इन बाइक्स से होगा मुकाबला 
इस बाइक की बुकिंग आज, मतलब 17 जुलाई से शुरू हो गई है और इसकी डिलीवरी अगस्त 2024 में चालू होगी. इस बाइक का मुकाबला Triumph Speed 400, 
Hero Mavrick 440, Harley-Davidson X440, Bajaj Dominar 400,  Bajaj Pulsar NS400Z और KTM 390 Duke से होगा.

 


7.3 सेकेंड में 100KM की स्‍पीड, लॉन्‍च हुई एक बार चार्ज में 468KM चलने वाली कार 

इन तीन मॉडलों ने कंपनी के सिर्फ पोर्टफोलियो का विस्‍तार नहीं किया है बल्कि टाटा से लेकर दूसरी कंपनियों के आने वाले नए मॉडल के लिए चुनौती बढ़ा दी है. अब BYD 25 लाख रुपये से शुरू होती है. 

Last Modified:
Wednesday, 10 July, 2024
BWHindia

चाइनीज ऑटोमोबाइल कंपनी BYD(Build Your Dream) ने भारत के बाजार में अपनी इलेक्ट्रिक कार ATTO के तीन नए वेरिएंट लॉन्‍च किए हैं. ये तीन एसयूवी जहां एक बार चार्ज में मिनिमम 468 किलोमीटर तक का सफर कर सकती है वहीं ये 50 मिनट में 80 प्रतिशत तक चार्ज हो जाती है. BYD ने जिन मॉडल को लॉन्‍च किया है उनमें डायनामिक, प्रीमियम और सुपीरियर शामिल हैं. BYD के शुरुआती मॉडल की कीमत आज तक 34 लाख रुपये हुआ करती थी जबकि अब इस कंपनी की कार को 24 लाख रुपये देकर खरीदा जा सकता है. 

क्‍या है इन तीन मॉडलों में खास बात? 
BYD ने भारत के बाजार में जो तीन नए मॉडल उतारे हैं उनका मुकाबला MG ZS EV से होने जा रहा है. BYD ने जो तीन मॉडल उतारे हैं उनमें डायनामिक 49.92 KWh की छोटी बैटरी दी गई है जबकि बाकी दो मॉडल में 60.48 KWh का बैटरी पैक दिया गया है. एक बार कार के फुल चार्ज होने पर डायनामिक 468 किलोमीटर का सफर कर सकती है जबकि बाकी दो वेरिएंट प्रीमियम और सुपीरियर 521 किमी तक जा सकते हैं. इन 3 मॉडल के लॉन्‍च होने के बाद अब ATTO की शुरुआती कीमत 24.99 लाख रुपये हो चुकी है. 

ये भी पढ़ें: आप 37 और केजरीवाल 38 नंबर आरोपी, 100 करोड़ में गोवा में इस्‍तेमाल हो गए इतने करोड़

किस वेरिएंट की कितनी है कीमत? 
BYD के इन तीन नए वेरिएंट की शुरुआती कीमत 24.99 लाख रुपये है जबकि हायर प्राइस 33.99 लाख रुपये है. डायनामिक के लिए आपको 24.99 लाख देने होंगे, जबकि प्रीमियम के लिए 29.85 लाख रुपये देने होंगे और सुपीरियर के लिए 33.99 लाख रुपये चुकाने होंगे. वहीं अगर पावर की बात करें तो तीनों मॉडल में 204 hp की ताकत है. वहीं दूसरी ओर तीनों मॉडलों का टॉर्क भी 310 nm है. इसी तरह से सर्टिफाइड रेंज 468 किलोमीटर और 521 किलोमीटर है. 

BYD ATTO 3 से बढ़ेगा कंपनी का पोर्टफोलियो
BYD ATTO 3 के इस पोर्टफोलियो से कंपनी का ईवी पोर्टफोलियो और बेहतर होगा. कंपनी के 23 शहरों में 26 शोरूम हैं. BYD इंडिया में इलेक्ट्रिक पैसेंजर व्‍हीकल्‍स बिजनेस के प्रमुख राजीव चौहान ने कहा कि तीनों वेरिएंट को लॉन्‍च करना हमारे लिए महत्‍वपूर्ण पड़ाव है और ये भारत के इलेक्ट्रिक व्‍हीकल परिदृश्‍य में महत्‍वपूर्ण पड़ाव है. उन्‍होंने कहा कि कंपनी ने इसमें कॉसमास ब्‍लैक एडिशन भी पेश किया है. इससे केवल हमारे पोर्टफोलियो का विस्‍तार नहीं होगा बल्कि ईवी के अधिक समावेशी भविष्‍य का रास्‍ता भी तय होगा. 
 


भारत में आएगी Xiaomi की इलेक्ट्रिक कार! 3 सेकेंड में पकड़ती है 100 किमी की स्पीड

शाओमी (Xiaomi) ने भारत में पहली बार एक इवेंट के दौरान अपनी इलेक्ट्रिक कार Xiaomi su7 को शोकेश किया. अब अंदाया लगाया जा रहा है कि कंपनी जल्द इसे भारत में लॉन्च करने की तैयारी में है. 

Last Modified:
Tuesday, 09 July, 2024
BWHindia

शाओमी (Xiaomi) ने मंगलवार यानी 9 जुलाई को बेंगलुरु में एक इवेंट का आयोजन किया. इवेंट के दौरान कंपनी ने अपने नए स्मार्टफोन Redmi 13 5G को लॉन्च किया है, जो एक अफोर्डेबल स्मार्टफोन है. इसके अलावा TWS और पावर बै TWS और पावर बैंक को भी लॉन्च किया. इसके बाद कंपनी ने आखिर में अपनी इलेक्ट्रिक कार पर से पर्दा उठाया. इस कार को भारत में अभी कंपनी ने लॉन्च नहीं किया है, सिर्फ इसे इसे शोकेश किया है. इसके बाद अंदाया लगाया जा रहा है कि कंपनी जल्द इसे भारत में लॉन्च कर सकती है. तो आइए हम आपको इस कार की कीमत से लेकर खास फीचर्स की पूरी जानकारी देते हैं. 

3 सेकेंड में 100 किमी प्रति घंटा स्पीड
कंपनी ने इवेंट के दौरान अपनी इस इलेक्ट्रिक कार की खूबियों के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि यह एक फुली इलेक्ट्रिक कार है और इसका नाम Xiaomi SU 7 है. ये कार सिर्फ 3 सेकेंड में 0-100 किलोमीटर प्रति घंटा की स्पीड पकड़ लेती है. वहीं, 10.67 सेकेंड में 0-200 किलोमीटर की स्पीड पर पहुंच जाती है. इसकी टॉप स्पीड 265 किलोमीटर प्रति घंटा की है.  इस कार की लंबाई 4997 मिमी, चौड़ाई 1,963 मिमी, उंचाई 1455 मिमी और व्हीलबेस 3000 मिमी है. इसमें दो अलग-अलग व्हील साइज के विकल्प मिलेंगे जो कि क्रमश: 19 इंच और 20 इंच के व्हील मिलेंगे.

सिंगल चार्ज में देगी 800KM की रेंज
शाओमी की इस इलेक्ट्रिक कार में इंडिविजुअल ड्राइव मोड दिया गया है. यह शाओमी स्मार्ट चेसिस पर तैयार की है. सुरक्षा की दृष्टि से कंपनी ने इसमें टॉप लेवल का ब्रेकिंग सिस्टम तैयार किया है.  वहीं, ये इलेक्ट्रिक कार सिंगल चार्ज में 800KM की रेंज देती है. 838NM का मैक्सिमम टॉर्क मिलता है और इसमें इसमें 673PS की मैक्सिमम पावर मिलती है.  

ये होगी कार की कीमत 
चीन में इस कार को 215,900 युआन से लेकर 299,900 युआन (लगभग 30,000 अमेरिकी डॉलर से 40,000 अमेरिकी डॉलर) के बीच लॉन्च किया गया है. यानी भारत के हिसाब से करीब 25 लाख रुपये इसकी कीमत है. फिलहाल कंपनी ने भारत में इस कार की लॉन्चिंग को लेकर कोई घोषणा नहीं की है, लेकिन इसे शोकेस करने के बाद अंदाया लगाया जा रहा है कि ये जल्द भारत में आ सकती है.  

इसे भी पढ़ें-एलपीजी E-KYC को लेकर ग्राहकों को मिली बड़ी राहत! केंद्रीय मंत्री ने X पर की ये घोषणा
 


Bharat टू Tesla: इसमें तेरा घाटा, मेरा कुछ नहीं जाता, क्या मन बदलने पर पछताएंगे Musk?

टेस्ला की फिलहाल भारत आने की कोई योजना नहीं है. एलन मस्क की कंपनी ने भारतीय अधिकारियों से बातचीत रोक दी है.

Last Modified:
Monday, 08 July, 2024
BWHindia

कुछ समय पहले तक एलन मस्क (Elon Musk) अपनी इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला (Tesla) की भारत में एंट्री को लेकर बेकरार थे, लेकिन अब उन्होंने अपना इरादा बदल दिया है. ब्लूमबर्ग की हाल ही में आई एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि मस्क ने भारतीय अधिकारियों से बातचीत बंद कर दी है. क्योंकि फिलहाल उनके पास भारत में निवेश करने के लिए फंड नहीं है.  भारत दुनिया के तेजी से बढ़ते ऑटोमोबाइल बाजार में शामिल है. इलेक्ट्रिक कारों की संख्या भी यहां लगातार बढ़ रही है. ऐसे में टेस्ला का भारत न आना, किसके लिए ज्यादा नुकसानदायक है भारत या एलन मस्क? 

पैरों पर मारी कुल्हाड़ी 
कई एक्सपर्ट्स मानते हैं कि टेस्ला की एंट्री से भारत को कई तरह के फायदे मिलते. भारत EV मैन्युफैक्चरिंग हब बनने की दिशा में  बड़ा कदम उठा पाता. साथ ही टेस्ला के आने से कई भारतीय कंपनियों के कारोबार को बूस्ट मिलता और नए रोज़गार भी निर्मित होते. वहीं, टेस्ला को भी भारत के रूप में एक बड़ा बाजार मिलता. लिहाजा, यह दोनों के लिए सिचुएशन होती. हालांकि,  ओला कैब्स (Ola Cabs) के चीफ एग्जीक्यूटिव भाविश अग्रवाल (Bhavish Aggarwal) का मानना है कि अपने भारत मिशन पर ब्रेक लगाकर एलन मस्क ने खुद अपने पैरों पर कुल्हाड़ी मारने वाला काम किया है. 

बहुत देर हो चुकी होगी
भाविश अगवाल ने सोशल मीडिया प्लेटफ़ॉर्म X पर ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट शेयर करते हुए लिखा है कि यदि यह सच है, तो इसमें टेस्ला का नुकसान है, भारत का नहीं. उन्होंने आगे कहा है कि भले ही भारतीय EV और लीथियम इकोसिस्टम अभी शुरुआती दौर में है, लेकिन हम तेज गति से आगे बढ़ रहे हैं. आज से कुछ वर्षों बाद जब टेस्ला फिर से गंभीरता के साथ भारत की ओर देखेगी तो उसके लिए बहुत देर हो चुकी होगी. गौरतलब है कि इसी साल अप्रैल में टेस्ला चीफ एलन मस्क भारत आने वाले थे, लेकिन आखिरी वक्त पर उन्होंने अपनी यात्रा रद्द कर दी. 

चीन में मिल रही कड़ी टक्कर
टेस्ला इन दिनों मुश्किल दौर से गुजर रही है.  अमेरिका के बाद चीन टेस्ला के लिए सबसे बड़ा बाजार है. 2023 में कंपनी की वैश्विक बिक्री में चीन की हिस्सेदारी 33% हिस्सा रही थी. लेकिन पिछले कुछ समय में चीनी कार कंपनियां टेस्ला के लिए मुसीबत बनी हुई हैं. पिछले साल यानी 2023 में टेस्ला ने चीनी कंपनी BYD से करीब 230,000 कारें ज्यादा बेची थीं, लेकिन इससे पहले सालों की तुलना में इस अंतर में भारी कमी आई है.  2021 में यह गैप 600,000 और 2022 में 400,000 था. एक रिपोर्ट बताती है कि टेस्ला की चीनी बाजार हिस्सेदारी 2024 की पहली तिमाही में घटकर लगभग 7.5% रह गई, जो पिछले वर्ष की समान अवधि में 10.5 प्रतिशत थी.
 


लॉन्च हुई दुनिया की पहली CNG बाइक, 300 का माइलेज, कीमत भी है कम!

Bajaj Auto ने दुनिया की पहली CNG Motorcycle को भारतीय बाजार में लॉन्च कर दिया है. दुनिया की इस पहली CNG Bike का नाम है, Freedom.

Last Modified:
Friday, 05 July, 2024
BWHindia

देश की प्रमुख दोपहिया वाहन निर्माता कंपनी बजाज ऑटो ने वो कर दिखाया है जो आज तक दुनिया में किसी ने नहीं किया. बजाज ऑटो ने दुनिया की पहली सीएनजी बाइक Bajaj Freedom को आधिकारिक तौर पर बिक्री के लिए लॉन्च किया है. इस ऐतिहासिक मोटरसाइकिल के लॉन्च के मौके पर केंद्रीय सड़क एवं परिवहन राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी भी मौजूद थें, जिन्होंने इसे गेम चेंजर बताया. आकर्षक लुक और स्पोर्टी डिज़ाइन से लैस इस बाइक की शुरुआती कीमत 95,000 रुपये (एक्स-शोरूम) तय की गई है.  आइए जानते है कैसी है दुनिया की पहली CNG बाइक...

Freedom 125 CNG में दमदार फीचर्स

फीचर्स की बात करें तो इस बाइक को कंपनी ने दमदार फीचर्स के साथ तैयार किया है. बाइक में कंफर्ट का ध्यान रखा गया है और सीट सेगमेंट में सबसे लंबी है. इसके अलावा स्टाइलिंग पर फोकस है. इनोवेटिव टेक पैकेजिंग भी दी गई है और तो और रोबूस्ट ट्रैलिस फ्रेम और लिंक्ड मोनोशॉक दिए गए हैं. कंपनी ने बाइक में LED Headlamps दिए हैं, जो मौजूदा समय में काफी पॉपुलर फीचर्स में से एक है. एक्सटिरियर देखेंगे तो डुअल कलर ग्राफिक डिजाइन देखने को मिलता है.

Freedom 125 CNG का पावरट्रेन

पावरट्रेन की बात करें तो बाइक में 125 सीसी का इंजन मिलता है. साथ में 2 किलोग्राम का सीएनजी टैंक और 2 लीटर का ही पेट्रोल फ्यूल टैंक दिया गया है. रेंज की बात करें तो कंपनी का दावा है कि ये बाइक 330 किमी तक का माइलेज दे सकती है. 8000 RPM पर ये बाइक 9.5 पीएस की मैक्सिमम पावर और 6000 RPM पर 9.7 न्यूटन मीटर का टॉर्क जनरेट करती है. 

कंपनी ने इस बाइक में लिंक्ड मोनोशॉक दिया है, जो ज्यादा स्टेबिलिटी देता है. राइडिंग डायनैमिक्स सुधारता है और ज्यादा परफॉर्मेंस का वादा करता है. इसके अलावा कंपनी ने सेफ्टी का भी खास ख्याल रखा है और सीएनजी के चारों तरफ प्रोटेक्टिव केज दिया गया है. दूसरे फीचर्स की बात करें तो इसमें 780 एमएम की लंबी सीट दी गई है.

Freedom 125 CNG की कीमत

कंपनी ने इस बाइक को 3 वेरिएंट में पेश किया है. ग्राहकों को यहां Freedom 125 NG04 Disc LED, Freedom 125 NG04 Drum LED, Freedom 125 NG04 Drum जैसे ऑप्शन्स मिलेंगे. बाइक के बेस वेरिएंट की कीमत 95000 रुपए है. मिड वेरिएंट की कीमत 1.05 लाख रुपए और टॉप वेरिएंट की कीमत 1.10 लाख रुपए है. 
बाइक की बुकिंग शुरू हो चुकी हैं और चरणबद्ध तरीके से ये बाइक देश के अलग-अलग शहरों में उपलब्ध होगी. बता दें कि महाराष्ट्र और गुजरात जैसे शहरों में Freedom 125 NG04 Disc LED की डिलिवरी शुरू हो जाएगी लेकिन बाकी दोनों वेरिएंट की डिलिवरी धीरे-धीरे शुरू होगी.
 


Musk ने अपने मिशन इंडिया पर खुद लगाया ब्रेक, भारत में फिलहाल नहीं दौड़ेंगी Tesla की कारें!

एलन मस्क पिछले काफी समय से टेस्ला की कारों को भारत लाने की कोशिश में लगे हुए हैं, लेकिन अब उन्होंने इस कोशिश पर ब्रेक लगा दिया है.

Last Modified:
Friday, 05 July, 2024
BWHindia

एलन मस्क (Elon Musk) की टेस्ला भारत में कब आने वाली है? यह सवाल पिछले काफी समय से पूछा जा रहा है. मस्क इसी साल 21-22 अप्रैल को भारत यात्रा पर आने वाले थे. इस दौरान, उनके टेस्ला की भारत में एंट्री को लेकर महत्वपूर्ण घोषणा करने की भी संभावना भी. लेकिन, उन्होंने आखिरी समय में अपनी यात्रा स्थगित कर दी. तब से उनके मिशन इंडिया पर सस्पेंस बना हुआ था. हालांकि, अब तस्वीर काफी हद तक साफ हो गई है. ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट बताती है कि टेस्ला के अधिकारियों ने भारत सरकार से बातचीत बंद कर दी है. टेस्ला की हाल-फिलहाल भारत में एंट्री की संभावना लगभग न के बराबर है. 

आर्थिक परेशानी में है टेस्ला
रिपोर्ट के अनुसार, टेस्ला के पास भारत में निवेश के लिए पैसा नहीं है, इसलिए कंपनी ने अपनी भारत योजना को फिलहाल के लिए टाल दिया है. ब्लूमबर्ग ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि टेस्ला ने भारत सरकार को सूचित किया है कि उसके पास अभी निवेश के लिए पैसों की कमी है. इसलिए वह फिलहाल भारत में इन्वेस्टमेंट नहीं कर सकती. दरअसल, एलन मस्क की टेस्ला के लिए समय अभी अच्छा नहीं चल रहा है. उसे दुनियाभर में दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. उसकी कारों की बिक्री में लगातार दूसरी तिमाही में गिरावट देखने को मिली है. चीन टेस्ला के लिए सबसे बड़ा बाजार है और वहां भी उसे स्थानीय कंपनियों से कड़ी प्रतिस्पर्धा मिल रही है.

ये भी पढ़ें - इस कंपनी ने भी बढ़ा दिए कारों के दाम, जानें अब कितना बढ़ेगा जेब का बोझ

हिट नहीं हुआ नया मॉडल
बताया जा रहा है कि टेस्ला का नया मॉडल साइबरट्रक भी उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाया है. मेक्सिको में टेस्ला के नए प्लांट के काम में देरी हो रही है. इन सभी परेशानियों को देखते हुए टेस्ला ने भारत में एंट्री की योजना फिलहाल के लिए टाल दी है. बाजार कारों का बड़ा बाजार है और इलेक्ट्रिक कारों की संख्या भी यहां बढ़ रही है. सरकार ने विदेशी EV कंपनियों को आकर्षित करने के उद्देश्य से नई EV पॉलिसी भी बनाई है. ऐसे में संभव है कि टेस्ला आने वाले समय में भारत का रुख करे, लेकिन फिलहाल तो इसकी संभावना कम नजर आती है.  

देश में TATA ही किंग
सरकार ने नई EV नीति के तहत विदेशी कंपनियों के लिए इम्पोर्ट टैक्स कम कर दिया है. हालांकि, इसके लिए कंपनियों को भारत में 4,150 करोड़ रुपए का निवेश करना होगा और तीन साल के अंदर स्थानीय स्तर पर EV का उत्पादन शुरू करना होगा. भारत के EV मार्केट में फिलहाल टाटा का दबदबा है.  कंपनी के पोर्टफोलियो में 4 इलेक्ट्रिक कारें हैं. टाटा नेक्सन ईवी, टाटा टियागो ईवी और टाटा टिगॉर ईवी के बाद अब कंपनी के पोर्टफोलियो में पंच EV भी शामिल हो गई है. महिंद्रा भी तेजी से EV पर काम कर रही है. आने वाले समय में कंपनी कुछ EV मॉडल पेश करने के तैयारी men जुटी है.
 


इस कंपनी ने भी बढ़ा दिए कारों के दाम, जानें अब कितना बढ़ेगा जेब का बोझ 

महंगाई के मौसम में अब एक दिग्गज कार कंपनी ने भी अपने कुछ मॉडल्स के दामों में इजाफा कर दिया है.

Last Modified:
Thursday, 04 July, 2024
BWHindia

भारतीय कार बाजार में Kia ने अपनी एक अलग पहचान स्थापित की ही. इस साउथ कोरियाई कंपनी की कारों को भारत में काफी पसंद किया जा रहा है. खासकर Sonet और Seltos को भारतीय ग्राहकों का काफी प्यार मिला है. इन कारों की डिमांड लगातार बनी हुई है. अब कंपनी अपनी इन दोनों कारों को महंगा कर दिया है. एक रिपोर्ट के अनुसार, Kia ने अपनी दोनों ही एसयूवी के चुनिंदा वेरिएंट्स की कीमतों में बढ़ोतरी कर दी है. यानी इनमें से किसी भी कार को खरीदने के लिए आपको पहले से ज्यादा जेब ढीली करनी होगी.

Sonet में इतना हुआ इजाफा
किआ मोटर्स ने  Sonet की कीमत 27 हजार रुपए तक बढ़ाई है. इसी तरह Seltos के दामों मन 19 हजार रुपए तक का इजाफा हुआ है.किआ सोनेट के बेस वेरिएंट की कीमत में किसी तरह का बदलाव नहीं हुआ है. इसके HTE(O) पेट्रोल 1.2 मैनुअल वेरिएंट की कीमत में 9900 रुपए बढ़ाए गए हैं. वहीं टॉप वेरिएंट एक्‍स लाइन 1.0 टर्बो पेट्रोल DTC अब 17 हजार महंगा हो गया है. जबकि HTX डीजल MT वेरिएंट की कीमत में सबसे ज्‍यादा 27 हजार रुपए की बढ़ोत्तरी की गई है.

ये वेरिएंट सबसे महंगा
सोनेट के साथ ही सेल्‍टॉस की कीमतों को भी बढ़ाया गया है.इस SUV की कीमत में 19 हजार रुपए तक बढ़ गई है. Seltos के HTX डीजल iMT वेरिएंट में सबसे ज्यादा इजाफा हुआ है. जबकि  X-Line DCT वेरिएंट की कीमत में सबसे कम 2 हजार की बढ़ोतरी हुई है. सोनेट की तरह इसके भी बेस वेरिएंट की कीमत में कंपनी ने कोई बदलाव नही किया है. Sonet और Seltos ने बाजार में आते ही अपना रंग जमा दिया था. आज भी दोनों SUVs डिमांड में हैं. कंपनी दोनों के ही अपडेटेड वर्जन बाजार में पेश कर चुकी है. अब Kia की बात निकली है, तो चलिए आपको यह भी बता देते हैं कि इसका हुंडई से क्या कनेक्शन है.

हुंडई और Kia का कनेक्शन
Hyundai और Kia अलग-अलग कंपनी होने के बावजूद दोनों एक-दूसरे से कनेक्टेड हैं. किआ और हुंडई टेक्नोलॉजी तो शेयर करती ही हैं, साथ ही इनके प्लेटफॉर्म, इंजन और गियरबॉक्स भी लगभग एक जैसे होते हैं. दरअसल, दोनों की एक दूसरे में हिस्सेदारी है. पहले किआ मोटर्स में हुंडई की हिस्सेदारी 51% थी, लेकिन अब यह 33.88% है. इसी तरह, हुंडई मोटर्स की कुछ सहायक कंपनियों में किआ की 5-45 फीसदी तक हिस्सेदारी है. 1988 में जब Kia वित्तीय संकट में फंस गई थी, तब Hyundai ने इसमें हिस्सेदारी खरीदी थी. किआ की स्थापना 1944 में हुई थी और हुंडई 1967 में अस्तित्व में आई. एक रिपोर्ट के अनुसार, Kia ने साइकिल बनाने से कारोबार की शुरुआत की, इसके बाद उसने बाइक और ट्रक मैन्युफैक्चरिंग में भी हाथ आजमाया. 1980 में किआ ने फोर्ड के साथ पार्टनरशिप की और 1986 में कार प्रोडक्शन शुरू किया. 1988 में एशिया में आए वित्तीय संकट में किआ भी मुश्किल में फंस गई. कंपनी ने खुद को दिवालिया घोषित करने के लिए आवेदन दिया, तब फोर्ड ने अपनी हिस्सेदारी हुंडई को बेची दी. इस तरह हुंडई के पास Kia की हिस्सेदारी अ गई.
 


भारत को लेकर बड़ा कदम उठाने वाली है ये दिग्गज ऑटो कंपनी, जानें क्या है पूरा प्लान

भारत के मजबूत होते ऑटो बाजार का लाभ उठाने के लिए कई विदेशी कंपनियां यहां का रुख कर रही हैं.

Last Modified:
Monday, 01 July, 2024
BWHindia

दिग्गज ऑटोमोबाइल कंपनी फॉक्सवैगन (Volkswagen) भारत में अपने कारोबार को लेकर बड़ा फैसला करने वाली है. जर्मनी की यह कंपनी पिछले काफी समय से भारत में मौजूद है, और अब वह अपने भारतीय कारोबार में हिस्सेदारी बेचने का मन बना रही है. फॉक्सवैगन ने इसके लिए एक स्थानीय पार्टनर से बातचीत भी शुरू कर दी है. हालांकि, उस संभावित पार्टनर का नाम अब तक सामने नहीं आया है. गौरतलब है कि MG भी अपने भारतीय कारोबार की कुछ हिस्सेदारी JSW समूह को बेच चुकी है.   

अब तक इतना किया निवेश 
फॉक्सवैगन ने भारतीय बाजार में अपने पैर ज़माने के लिए बड़े पैमाने पर निवेश किया है. एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जर्मन कंपनी अब तक दो अरब डॉलर से अधिक का निवेश कर चुकी है, लेकिन इसके बावजूद उसे मनमाफिक परिणाम नहीं मिले हैं. इसलिए कंपनी अपने भारतीय कारोबार में हिस्सेदारी बेचने जा रही है. फॉक्सवैगन ने अब तक भारत में अपनी महंगी यूरोपीय गाड़ियों को ही लॉन्च किया जा है. अब कंपनी नई सस्ती कारों को बाजार में लाने पर भी विचार कर रही है.

कम टैक्स की दरकार 
कंपनी यह भी चाहती है कि भारत में हाइब्रिड कारों पर टैक्स की दरें कम होनी चाहिए. रिपोर्ट में स्कोडा ऑटो के ग्लोबल सीईओ क्लॉस जेलमर के बयान का भी हवाला दिया गया है. क्लॉस भारत में फॉक्सवैगन समूह के इन्वेस्टमेंट और स्ट्रेटेजी प्रमुख भी हैं. उनका कहना है कि हम 20 से अधिक वर्षों से भारत में हैं. हालांकि, हमें मनमाफिक परिणाम प्राप्त नहीं हुए हैं. इसलिए, अब हम एक नया रास्ता आजमाने पर विचार कर रहे हैं. मुझे विश्वास है कि यदि हमें सही साझेदार मिल जाए, तो हम एक-दूसरे से सीख सकते हैं और लाभ उठा सकते हैं. 

M&M बन सकती है पार्टनर
अभी यह साफ नहीं हुआ है कि फॉक्सवैगन किस भारतीय कंपनी को पार्टनर के रूप में देखती है, लेकिन माना जा रहा है कि कंपनी भारत में महिंद्रा एंड महिंद्रा (M&M) से हाथ मिला सकती है. संभावित पार्टनरशिप के बारे में बताते हुए क्लॉस ने कहा कि हम एक सच्ची साझेदारी की तलाश कर रहे हैं. यह कुछ हद तक बिना किसी अनुबंध के शादी करने जैसी होगी. उन्होंने कहा कि यूरोपीय कारें अमूमन ओवर-इंजीनियर्ड हैं, जिनकी भारत में खास जरूरत नहीं होती. हम अपनी अपेक्षाओं के अनुसार कारें बनाते आए हैं, जिनकी कीमत अपेक्षाकृत अधिक होती है. यह पहलू हमारी प्रतिस्पर्धी स्थिति को कमजोर करता है. इसलिए, हमें सीखने की जरूरत है. बता दें कि वर्तमान में फॉक्सवैगन के भारत में कुल 3 मॉडल्स बिक्री के लिए उपलब्ध हैं. इसमें 1 सेडान और 2 एसयूवी शामिल हैं.

MG बेच चुकी हिस्सेदारी
इससे पहले चीन से ताल्लुख रखने वाली MG मोटर अपने भारतीय कारोबार में हिस्सेदारी बेच चुकी है. इस डील के साथ ही MG मोटर इंडिया अब JSW MG मोटर इंडिया हो गई है. सज्जन जिंदल पिछले काफी समय से MG मोटर में हिस्सेदारी खरीदने की कोशिश कर रहे थे और पिछले साल उनकी यह कोशिश सफल हो गई. JSW ग्रुप के पास फिलहाल इस कंपनी में 35% हिस्सेदारी है. प्राइवेट इक्विटी फंड एवरस्टोन कैपिटल के पास 8% हिस्सेदारी है. इसके अलावा करीब 8 प्रतिशत हिस्सेदारी विभिन्न डीलर्स-कर्मचारियों के पास है और शेष 49% हिस्सेदारी चीनी कंपनी SAIC के पास है. अब इस कंपनी का आईपीओ आने वाला है. इस IPO से पहले सज्जन जिंदल MG मोटर इंडिया में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाकर 51 प्रतिशत कर सकते हैं.

बाजार में 1% पर ही कब्जा 
MG मोटर की पैरेंट कंपनी SAIC चीन की सबसे बड़ी सरकारी कार कंपनी है. एक अनुमान के मुताबिक यह कंपनी भारत में अब तक करीब 3000 करोड़ रुपए का निवेश कर चुकी है. MG Motor सामान्य ईंधन पर चलने वाली कारों के साथ-साथ इलेक्ट्रिक वाहन भी बनाती है. भारत में इसकी SUVs MG हेक्टर (MG Hector), ग्लोस्टर (Gloster) और एस्टोर (Astor) को काफी पसंद किया गया है. इसके अलावा, ZS EV और Comet नाम से MG की इलेक्ट्रिक कारें भी भारत में मौजूद हैं. JSW MG Motor के पास भारत के कार बाजार में अभी महज 1% हिस्सेदारी है.


मारूति की इस कार की जबरदस्त डिमांड, अबतक बिक चुकी हैं इतने मिलियन कारें, बनाया रिकॉर्ड

बेहतरीन ड्राइविंग एक्सपीरियंस और आउटस्टैंडिंग परफॉर्मेंस की वजह से लोग इस कार को इतना प्यार दे रहे हैं.

Last Modified:
Saturday, 29 June, 2024
BWHindia

देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी की स्विफ्ट ने बिक्री का नया रिकॉर्ड बनाया है. कंपनी ने बताया कि मई 2005 से लेकर मई 2024 तक स्विफ्ट की 30 लाख यूनिट्स (3 मिलियन) बिक चुकी हैं. पहली बार स्विफ्ट को 2005 में लॉन्च किया था और देखते ही देखते इसने अपनी शानदार परफॉरमेंस से लोगो के दिलों के साथ उनके घरों में भी जगह बन ली है. हाल ही में मारुति ने नई स्विफ्ट को भारत में लॉन्च किया है.

कंपनी ने जारी किया बयान

इस मौके पर कंपनी के सीनियर एग्जीक्यूटिव ऑफिसर पार्थो बनर्जी ने कहा कि हर नई जनरेशन के साथ कार में नए-नए और बड़े बदलाव किए गए हैं. कंपनी ने कटिंग एज टेक्नोलॉजी के साथ इस कार को लॉन्च को हर बार लॉन्च किया है. उन्होंने आगे कहा कि हम हर ग्राहक के काफी शुक्रगुजार हैं. बता दें कि बेहतरीन ड्राइविंग एक्सपीरियंस और आउटस्टैंडिंग परफॉर्मेंस की वजह से लोग इस कार को इतना प्यार दे रहे हैं. बता दें कि कंपनी ने मई 2024 में नई स्विफ्ट को लॉन्च किया था और उसके बाद सेल्स के मोर्चे पर बड़ी उपलब्धि हासिल की है.

2005 में पहली बार हुई थी लॉन्च

मारुति सुजुकी ने स्विफ्ट को पहली बार भारत में मई 2005 में लॉन्च किया था, उस समय इस कार की कीमत 3.87 लाख रुपये (एक्स-शोरूम कीमत) थी, और आज 2024 इसकी कीमत डबल हो चुकी है. नवंबर 2012 में स्विफ्ट की एक मिलियन (10 लाख ) यूनिट्स की बिक्री हुई. इसके बाद नवंबर 2018 में स्विफ्ट की 2 मिलियन (20 लाख) यूनिट्स बिकी तो वहीं जून 2024 में स्विफ्ट की 3 मिलियन (30 लाख)यूनिट्स बिक चुकी हैं. स्विफ्ट भारत की सबसे पॉपुलर हैचबैक कार है लेकिन सेफ्टी के मामले में यह फ्लॉप भी है. 

कीमत, वेरिएंट और इंजन पावर 

मारुति स्विफ्ट 6 वेरिएंट में उपलब्ध है जिसमें LXi, VXi, VXi (O), ZXi, ZXi+ और ZXi+ Dual Tone शामिल हैं. इसकी एक्स शोरूम कीमत 6.49 लाख रुपए से लेकर 9.64 लाख रुपए तक जाती है. कार के बेस वेरिएंट में ही काफी अच्छे और उपयोगी फीचर्स मिल जाते हैं. नई स्विफ्ट में 1.2L का 3 सिलेंडर माइल्ड हाइब्रिड पेट्रोल इंजन मिलेगा जोकि 81.6PS की पावर और 112 Nm का टॉर्क मिलेगा. इसमें 5 स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स की सुविधा मिलेगी. इसमें AMT गियरबॉक्स का भी ऑप्शन मिलेगा, खास बात ये है कि नई स्विफ्ट एक लीटर में 25.72km की माइलेज मिलेगी.

स्पोर्टी डिजाइन और ब्लैक इंटीरियर

डिजाइन के मामले में नेक्स्ट जनरेशन स्विफ्ट दिखने में आपको पसंद आएगी. इसका डिजाइन स्पोर्टी है और यह में आल न्यू ब्लैक इंटीरियर दिया गया है जो यूथ को टारगेट करता है. इसमें 9 इंच का टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, स्टीयरिंग माउंटेड कंट्रोल, वायरलेस फोन चार्जर और पुश बटन स्टार्ट स्टॉप जैसे फीचर्स मिलते हैं. कार की सीटें स्पोर्टी हैं, कार में स्पेस काफी अच्छा स्पेस मिल जाएगा, कार में रियर AC वेंट की सुविधा मिलती है.